नशा मुक्त समाज बनाने को लेकर सेमिनार का आयोजन - Rashtra Samarpan News and Views Portal

Breaking News

Home Top Ad


 Advertise With Us

Post Top Ad


Subscribe Us

Sunday, June 26, 2022

नशा मुक्त समाज बनाने को लेकर सेमिनार का आयोजन

 




पटना । अंतरराष्ट्रीय नशा निषेध दिवस के अवसर पर शनिवार को युथ मोबिलाइजेशन फॉर नेशनल एडवांसमेंट ( यमना ) द्दारा संचालित दिशा नशा उपचार सह पुनर्वास केंद्र पटना, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो पटना एवं आर्थिक अपराध ईकाई पटना ने संयुक्त रूप से जागरूकता अभियान के तहत सेमिनार का आयोजन किया। इसका  आयोजन दिशा नशा उपचार सह पाटलिपुत्रा कॉलोनी स्थित पुनर्वास केंद्र के प्रांगण में किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत एन.सी.बी. पटना  के जोनल डायरेक्टर कुमार मनीष, यमना की सीईओ राखी शर्मा, बाल संरक्षण ईकाई की अध्यक्ष संगीता कुमारी, मनोचिकित्सक डॉ. राकेश कुमार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। कार्यक्रम का उदेश्य उपस्थित सभी बच्चों, युवाओं एवं महिलाओं को नशा के प्रभाव के बारे में समाज में लोगो के बीच जागरूकता लाना हैं। 

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो  के जोनल डायरेक्टर कुमार मनीष द्दारा कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए बताया कि नशीली वस्तुओं का सेवन एवं व्यापर करना भारत के संविधान के तहत क़ानूनी जुर्म हैं । इसमे 20 वर्षों तक की कठिन सजा तथा आर्थिक जुर्माना भी वसूला जा सकता है, अगर कोई व्यक्ति नशा के शिकार होते हैं तो उन्हें नशा उपचार केंद्र में उपचार कराने की जानकारी दें। साथ ही कोई व्यक्ति नशीली वस्तुओं के व्यापर में शामिल हैं तो इसकी सूचना नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को दें। सूचना देने वाले की जानकारी गुप्त रखी जाएगी। 


दिशा संस्था के सीईओ राखी शर्मा ने लोगों को सम्बोधित करते हुए बताया कि उनकी संस्था 1989 से नशा उन्मूलन के लिए कार्य कर रही है।  दिशा नशा उपचार सह पुनर्वास केंद्र के उपचार विधि के बारे में भी लोंगो को बताया। कहा की अभी के दौर में हमारे युवा छात्र जीवन में बड़ी तेजी से नशा के शिकार हो रहें हैं, जिससे हमारा समाज का युवा वर्ग पीछे जा रहा है। इसके लिए हम सबों को मिलकर कार्य करना होगा साथ ही साथ नशा से होने वाले हानियों एवं नशा के गिरफ्त से कैसे बचाव किया जाय इस पर विस्तार से बताया । उन्होंने नशा मुक्त समाज बनाने के लिए लोगो से अपील किया एवं सभी लोगो को नशा नहीं करने की शपथ दिलाई।

मनोचिकित्सक डॉ. राकेश कुमार ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारा समाज बड़ी तेजी से बदल रहा है जिसके कारण छात्र जीवन में ही नशा के शिकार हो रहें हैं । इसी वजह से मानसिक समस्या लोगों में बढ़ती जा रही है। इसके लिए हम सबों को मिलकर नशा मुक्त समाज बनाने के लिए आगे आना होगा एवं नशा को ना जीवन को हा के मूल मन्त्र के साथ जीवन को बेहतर बनाने का प्रयास करना होगा ।

इस कार्यक्रम में एनसीसी के 50 महिला एवं पुरुष कैडेट के साथ कई स्कूल के छात्र छात्राओं के साथ ही झुग्गी झोपड़ियों के महिला, बच्चे सामाजिक कार्यकर्त्ता, शिक्षाविद, विधिक सेवा प्राधिकार के प्रतिनिधि, सरकारी अधिकारी, परामर्शदाता एवं स्वयंसेवक ने भी जगरूकता कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए समाज को नशा के खिलाफ जागरूक करने हेतु कार्यक्रम में हिस्सा लिया । कार्यक्रम की समाप्ति अरुण कुमार द्दारा धन्यवाद ज्ञापन कर किया गया।कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को नशा से दूर रहने का सन्देश समाज के लिए दिया।

No comments:

Post a Comment

Like Us

Ads

Post Bottom Ad


 Advertise With Us