#RamgarhNews : दिनभर की ख़बरें (18 नवम्बर 2020) - Rashtra Samarpan News and Views Portal

Breaking News

Home Top Ad


 Advertise With Us

Post Top Ad


Subscribe Us

Wednesday, November 18, 2020

#RamgarhNews : दिनभर की ख़बरें (18 नवम्बर 2020)

 


मुख्य खबरे

रामगढ़ खबर

  • बिजुलिया छठ घाट का जायजा लेने पहुंचे कैंट बोर्ड उपाध्यक्ष एवं समाजसेवी
  • राज्य सरकार जो छठ पर्व पर रोक लगाई थी वो बाते आपस ली
  • बांके बिहारी राधा रानी किला मंदिर के प्रांगण में शुरू होगा संयुक्त महायज्ञ
  • टी एच आर के माध्यम से गर्भवती महिलाओं/ धात्री माताओं एवं कुपोषित बच्चों को उपलब्ध कराया जा रहा है राशन
  • छठ पूजा के आयोजन हेतु राज्य सरकार द्वारा पूर्व में जारी दिशा-निर्देशों में हुआ बदलाव

चितरपुर खबर

  • पंसस ने पंचायती कर मारपीट के मामले का निपटारा कराया
  • चार दिन के महापर्व छठ पूजा की नहाय खाय के साथ हुई शुरूआत
  • छठ पूजा को लेकर आजसू नेता ने छठ घाटों की साफ सफाई करवाई

गोला खबर

  • विधायक प्रतिनिधि ने करवाया छठ घाट की सफाई
  • प्रखंड शिक्षा समिति की बैठक

खबरे विस्तार से  

बिजुलिया छठ घाट का जायजा लेने पहुंचे कैंट बोर्ड उपाध्यक्ष एवं समाजसेवी

रामगढ़। सार्वजनिक छठ पूजा समिति बिजुलिया के छठ घाट की सफाई के दौरान बुधवार को जायजा लेने पहुंचे  कैंट बोर्ड के उपाध्यक्ष अनमोल सिंह ,आजसू पार्टी नगर सचिव नीरज मंडल, जिला सह सचिव संजय रावत छठ घाट में हो रहे सफाई का जायजा लेने पहुंचे। मौके पर नगर सचिव नीरज मंडल सभी सफाई कर्मियों को धन्यवाद देते हुए कहा कि आप जिस तरह से निस्वार्थ भाव से छठ व्रतियों को ध्यान में रखते हुए छठ महापर्व के शुभ अवसर पर बिजलिया तालाब की साफ सफाई कर रहे हैं। वाकई तारीफ के काबिल है एवं लोकप्रिय सांसद चंद्र प्रकाश चौधरी को धन्यवाद दिया। साथ में कोविड-19 को देखते हुए छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं से अपील किया कि मास्क सैनिटाइजर एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अवश्य करें एवं गहरे पानी से जाने से बचें। साथ में उन्होंने जिला प्रशासन से मांग किया कि बिजूलिया तालाब एवं दामोदर नदी में नाव एवं गोताखोर की व्यवस्था जरूर करें।

==========================================

राज्य सरकार जो छठ पर्व पर रोक लगाई थी वो बाते आपस ली

रामगढ़। बुधवार को समाजसेवी रानी प्रियंका वार्ड नंबर 5 छावनी परिषद बिजलिया स्थित आवास में  प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि सर्वप्रथम में धन्यवाद देती हूं लोकप्रिय सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी का जिन्होंने राज्य सरकार का विरोध छठ घाट पर जो रोक लगाई गई थी उसकी आवाज उठाई और सभी हिंदू धर्म प्रेमियों को भी धन्यवाद दिया। जिन्होंने कल की विरोध प्रदर्शन में अपना साथ दिया  मौके पर रानी प्रियंका ने सभी छठ व्रतियों को शुभकामनाएं देते हुए कहीं की कोविड-19 को देखते हुए सभी श्रद्धालु सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें एवं छठ घाट पर मास्क एवं सैनिटाइजर का उपयोग अवश्य करें और साथ ही जिला प्रशासन से मांग की है कि बिजलिया तालाब में एवं दामोदर नदी में नाव एवं गोताखोर एवं लाइट की व्यवस्था अवश्य करें एवं नियमित साफ-सफाई छठ घाटों की करवाएं ताकि छठ व्रतियों किसी तरह का छठ महापर्व करने में कोई दिक्कत का सामना करना ना पड़े।

==========================================

बांके बिहारी राधा रानी किला मंदिर के प्रांगण में शुरू होगा संयुक्त महायज्ञ

रामगढ़। स्थानीय शिवाजी रोड़ स्थित श्री बांके बिहारी राधा रानी किला मंदिर के प्रांगण में किला मंदिर प्रबंध समिति के नेतृत्व में 54 वां श्रीरामचरित्र मानस नवाह्परायण एवं शतचंडी महायज्ञ का शुभारंभ वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ 21 नवंबर को होगा। यह बात बुधवार को किला मंदिर प्रबंध समिति की ओर से किला मंदिर के प्रांगण में आयोजित प्रेस वार्ता में समिति के अध्यक्ष अनुप कुमार उर्फ बाबू साहेब, महासचिव डॉ संजय सिंह एवं मंदिर के प्रधान पुजारी पंडित गोविंद बल्लभ शर्मा ने संयुक्त रूप से कही। उन्होंने कहा कि संयुक्त महायज्ञ का शुभारंभ वर्ष 1964 में तत्कालीन व्यवस्थापक सह प्रधान पुजारी पंडित हीराबल्लभ शर्मा ने की थी। इसके बाद प्रति वर्ष संयुक्त महायज्ञ रामगढ़ जिलावासियों के कल्याणार्थ होता आ रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को देखते हुए कलश यात्रा एवं भंडारा कार्यक्रम को स्थगित किया गया है। जबकि छोटा यज्ञमंडप का निर्माण कर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए विद्धान ब्राह्मण पाठ करेंगे। यज्ञमंडप की सजावट पंडित मुरारी मोहन शर्मा ने की है। महायज्ञ के आचार्य पंडित गोविंद बल्लभ शर्मा है। जबकि मानस ब्यास पंडित सुनील पांडे है। इसके अलावा रविंद्र पांडे, राजू पाठक, उपेंद्र पाठक, गोविंद दत्त शर्मा, सीताराम पाठक, धर्मेंद्र पाठक, बृजेश पाठक एवं सत्येंद्र दुबे मानस एवं चंडी का पाठ करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रात: काल श्रीगणेश पूजन सहित अन्य देवी-देवताओं का पूजन होगा। इसके बाद चंडी का पाठ होगा। अपराह्न 12 बजे से लेकर संध्या 5 बजे तक श्रीरामचरित्र मानस नवाह्परायण पाठ होगा। 30 नवंबर को महायज्ञ की पूर्णाहुति हवन एवं प्रसाद वितरण के साथ होगा। उन्होंने कहा कि महायज्ञ को लेकर शहरवासियों में काफी उत्साह है। उन्होंने धार्मिक श्रद्धालुओं से संयुक्त महायज्ञ में सहयोग करने का आग्रह किया है। कहा कि प्रतिवर्ष धार्मिक श्रद्धालुओं के सहयोग से संयुक्त महायज्ञ सफलतापूर्वक संपादित होता आ रहा है।

==========================================

टी एच आर के माध्यम से गर्भवती महिलाओं/ धात्री माताओं एवं कुपोषित बच्चों को उपलब्ध कराया जा रहा है राशन

रामगढ़। बुधवार को रामगढ़ जिले के विभिन्न प्रखंडो के आंगनबाड़ी केंद्रों की सेविका एवं सहायिकाओं के द्वारा टी एच आर के अंतर्गत  लोगों के घर घर जाकर राशन का वितरण किया गया। टेक होम राशन  के तहत जिले की गर्भवती महिलाओं/ धात्री माताओं एवं कुपोषित बच्चों को आंगनवाड़ी सेविकाओं/सहायिकाओं को उनके घरों तक जा-जा कर राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। इस दौरान प्रत्येक लाभुक को 2.5 किलो चावल और 750 ग्राम दाल उपलब्ध कराया जा रहा है।

==========================================

छठ पूजा के आयोजन हेतु राज्य सरकार द्वारा पूर्व में जारी दिशा-निर्देशों में हुआ बदलाव

रामगढ़ कन्टेनमेंट जोन के बाहर खुली जगहों पर, लोगों को एकत्रित होने की अनुमति दी गई है, उपलब्ध स्थान पर किसी भी दो व्यक्तियों के बीच 6 फीट के दूरी को ध्यान में रखते हुए लोगों को समायोजित किया जा सकता है। स्थानों पर छठ पूजा के पालन के दौरान राष्ट्रीय निर्देशों का पालन किया जाएगा फेस कवर पहनना अनिवार्य है।सार्वजनिक स्थानों पर विशेष रूप से जल निकाय के भीतर थूकना प्रतिबंधित है। छठ पूजा समितियां उपरोक्त दिशा-निर्देशों के अनुपालन को सुनिश्चित करने में जिला प्रशासन की सहायता करेंगी। इन निर्देशों की अवमानना या उल्लंघन करने वाले किसी भी व्यक्ति के विरुद्ध आईपीसी की धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई के अलावा धारा 51 से 60 तक आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के प्रावधानों और लागू होने वाले अन्य कानूनी प्रावधानों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

==========================================

पंसस ने पंचायती कर मारपीट के मामले का निपटारा कराया

चितरपुर। बारलोंग में दीपावली की रात बैजनाथ राम व विजय राम पिता शिवदयाल रविदास के साथ गांव के ही रविंद्र मुंडा पिता मंगल मुंडा सहित कई अन्य लोगों द्वारा मारपीट किया गया था। साथ ही जाति सूचक शब्द का भी प्रयोग किया गया था। जिसके बाद बैजनाथ राम द्वारा रजरप्पा थाना में रविंद्र मुंडा सहित अन्य लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराया गया था। इसी मामले को लेकर पंसस इंद्रजीत मुंडा द्वारा पंचायती के माध्यम से मामले को सलटाया गया। जिसमें अरविंद मुंडा ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए माफी मांगा। और दोबारा वह गलती नही करने की बात कही। मौके पर गणेश रवि, अजय मुंडा, मुन्ना मुंडा, नितेश कुमार, राजू राम सहित कई मौजूद थे। 

=========================================

चार दिन के महापर्व छठ पूजा की नहाय खाय के साथ हुई शुरूआत

चितरपुर। बुधवार को छठ पर्व की शुरूआत नहाय-खाय के साथ हो गई है कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि से ये महापर्व शुरू हो जाता है। छठ का पर्व दिवाली के 6 दिन बाद मनाया जाता है यह पर्व खासतौर पर बिहार, पूर्वी उत्तर प्रेदश और झारखंड में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है ये व्रत संतान प्राप्ति और संतान की मंगलकामना के लिए रखा जाता है।

नहाय-खाय का महत्व:

छठ पूजा में भगवान सूर्य की पूजा का विशेष महत्व है। चार दिनों के महापर्व छठ की शुरुआत नहाय-खाय से होती है इस दिन व्रती स्नान करके नए कपड़े धारण करती हैं और पूजा के बाद चना दाल, कद्दू की सब्जी और चावल को प्रसाद के तौर पर ग्रहण करती हैं व्रती के भोजन करने के बाद परिवार के बाकी सदस्य भोजन करते हैं नहाय-खाय के दिन भोजन करने के बाद व्रती अगले दिन शाम को खरना पूजा करती हैं इस पूजा में महिलाएं शाम के समय लकड़ी के चूल्हे पर गुड़ की खीर बनाकर उसे प्रसाद के तौर पर खाती हैं और इसी के साथ व्रती महिलाओं का 36 घंटे का निर्जला उपवास शुरू हो जाता है मान्यता है कि खरना पूजा के बाद ही घर में देवी षष्ठी (छठी मईया) का आगमन हो जाता है कुल मिलाकर यह पर्व चार दिनों तक चलता है।इसकी शुरुआत कार्तिक शुक्ल चतुर्थी से होती है और सप्तमी को अरुण वेला में इस व्रत का समापन होता है। कार्तिक शुक्ल चतुर्थी को नहाए-खाएके साथ इस व्रत की शुरुआत होती है इस दिन से स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाता है दूसरे दिन को लोहंडा-खरनाकहा जाता है, उस दिन दिनभर उपवास रखकर शाम को खीर का सेवन किया जाता है खीर गन्ने के रस की बनी होती है तीसरे दिन दिनभर उपवास रखकर डूबते हुए सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है। अर्घ्य दूध और जल से दिया जाता है, चौथे दिन बिल्कुल उगते हुए सूर्य को अंतिम अर्घ्य दिया जाता है इसके बाद कच्चे दूध और प्रसाद को खाकर व्रत का समापन किया जाता है।

==========================================

छठ पूजा को लेकर आजसू नेता ने छठ घाटों की साफ सफाई करवाई

चितरपुर। आस्था के महापर्व छठ पूजा के अवसर पर रामगढ़ प्रखंड के कुंदरू कला स्थित दामोदर नदी किनारे छठ घाटों की पूजा स्थल का साफ-सफाई कराई गई।इस सफ़ाई अभियान में पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि किशन राम मुंडा गिरिडीह सांसद प्रतिनिधि धनेश्वर महतो वार्ड सदस्य प्रदीप नायक, संदीप कुमार ,प्राण महतो, उमाकांत महतो, कालेश्वर महतो ,बसंत महतो,, प्रदीप महतो, हुकुम नाथ महतो ,ग़दर महतो सहित दर्जनों ग्रामीणों के द्वारा जेसीबी एवं कोड़ी कुदाल से साफ सफाई की गई।

==========================================

विधायक प्रतिनिधि ने करवाया छठ घाट की सफाई

गोला। स्थानीय विधायक ममता देवी के विधायक प्रतिनिधि अमित महतो ने बुधवार को डीवीसी चौक स्थित गोमती नदी में छठ घाट की साफ-सफाई करायी। इस दौरान उन्होने कहा कि लोक आस्था व सुर्य उपासना का महापर्व छठ पूरी नेम निष्ठा के साथ वर्तियों द्वारा मनाया जाता है। इसलिए घाट की सफाई अतिआवश्यक है। मौके पर सुनील कुशवाहा, कांग्रेस युवा नेता कमलेश कुमार महतो, प्रकाश गोस्वामी,  छोटू खान, सोहित नायक, साजन गोस्वामी, परवेज आलम, अलीम,  महेंद्र, हेमन्त चौधरी,  लालमोहन महतो आदि उपस्थित थे।

==========================================

प्रखंड शिक्षा समिति की बैठक

गोला। प्रखंड संकुल संसाधन केंद्र में बुधवार को प्रखंड शिक्षा समिति की बैठक आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता प्रखंड विकास पदाधिकारी सह प्रखंड शिक्षा समिति गोला के अध्यक्ष अजय कुमार रजक ने किया। बैठक में मानदेय को लेकर चार पारा शिक्षकों का अनुमोदन करके भेजा गया। बताया गया कि इन चारों पारा शिक्षकों का मानदेय डीएलएड नही होने के कारण रुका हुआ था। मौके पर सांसद प्रतिनिधि डोमन नायक, विधायक प्रतिनिधि अमित महतो, अंचल अधिकारी, प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी, कल्याण पदाधिकारी आदि मौजूद थे।

 

No comments:

Post a Comment

Like Us

Ads

Post Bottom Ad


 Advertise With Us