रामगढ़ :  दिनभर की ख़बरें  15 April 2020 - Rashtra Samarpan News and Views Portal

Breaking News

Home Top Ad


 Advertise With Us

Post Top Ad


Subscribe Us

Wednesday, April 15, 2020

रामगढ़ :  दिनभर की ख़बरें  15 April 2020



लॉक डाउन का पालन कराने हेतु जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए विशेष दिशा-निर्देश

■ अति आवश्यक सेवाओं से संबंधित  सभी किराना/राशन/दवाई आदि दुकानदारों को अनिवार्य रूप से न्यूनतम 12 घंटे सुबह 9:00 से रात्रि 9:00 तक प्रतिदिन खोलना होगा दुकान

रामगढ़: कोरोनावायरस कोविड-19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु पूरे देश को लॉक डाउन किया गया है। इस घड़ी में जिला प्रशासन, रामगढ़ द्वारा कोविड-19 को रोकने एवं इसके उपचार हेतु सभी संभव प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में प्रशासन द्वारा जिले में लॉक डाउन का पालन कराने हेतु विशेष दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इसके अनुसार-

■शहरों एवं ग्रामों में स्थानीय स्तर पर सभी किराना, राशन दुकानदारों, दवाई दुकानदारों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अनिवार्य रूप से ग्राहकों के खड़े रहने के लिए 2 दो मीटर की दूरी पर गोल घेरे का निर्माण करना होगा। इसके साथ ही सभी किराना, राशन, दवाई दुकानदारों को न्यूनतम 12 घंटे (9 बजे सुबह से रात 9 बजे तक) अनिवार्य रूप से  प्रतिदिन खोलना होगा।*

■रामगढ़ शहर में अवस्थित फुटबॉल ग्राउंड, सिद्धू कान्हू ग्राउंड में प्रतिदिन प्रातः से 9:00 रात्रि तक सब्जी मंडी में फल, सब्जी की बिक्री की जाएगी एवं दो दुकानों के बीच न्यूनतम 15 फीट की दूरी बनाते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।*

■रामगढ़ जिला में अवस्थित शनिचरा बाजार, रांची रोड मरार, गोला (डभातु), चितरपुर बाजार, भुरकुंडा बाजार पतरातू, मांडूचट्टी, दुलमी सिकनी इत्यादि के साप्ताहिक हाट बाजार के विक्रेताओं को प्रतिदिन बाजार लगाने हेतु संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा प्रोत्साहित किया जाएगा।

■सभी विक्रेताओं एवं क्रेताओं को आदेश दिया गया है कि उक्त स्थलों पर खरीद बिक्री हेतु मास्क आदि का उपयोग करके ही निकलना सुनिश्चित करेंगे एवं सभी दुकानों एवं प्रतिष्ठान को आदेश दिया गया है कि अपनी देखरेख में सैनिटाइजर एवं ब्लीचिंग पाउडर के माध्यम से साफ सफाई करवाना सुनिश्चित करेंगे।

=================================================

■माननीय सांसद श्री जयंत सिन्हा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लिया कोरोना के विरुद्ध हो रहे कार्यों का जायजा

■लॉक डॉन के दौरान आम जनों को उपलब्ध हो मूलभूत सुविधाएं

■सोशल डिस्टेंसिंग ही एकमात्र बचाव, अनिवार्य रूप से पालन कराएं

■विशेष नीति बनाकर करें कार्य:  जयंत सिंहा

रामगढ़: कोरोना वायरस कोविड-19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु पूरे देश को 3 मई तक के लिए लॉक डाउन किया गया है। इसी क्रम में आज हजारीबाग लोकसभा क्षेत्र से माननीय सांसद श्री जयंत सिन्हा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्रीमती ममता देवी, बड़कागांव विधानसभा क्षेत्र से विधायक सुश्री अंबा प्रसाद, जिला परिषद अध्यक्ष श्री ब्रह्मदेव महतो, जिला परिषद उपाध्यक्ष श्रीमती सरिता देवी, उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक से कोविड-19 के विरुद्ध हो रहे कार्यों का जायजा लिया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान श्री सिन्हा ने कहां की कोरोना को रोकने का केवल एक ही रास्ता है और वह है सोशल डिस्टेंसिंग का। इसलिए हम सभी को हर क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग का अनिवार्य रूप से पालन कराना है। श्री सिन्हा ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान अति आवश्यक सेवाओं पर सरकार द्वारा किसी तरह की कोई पाबंदी नहीं लगाई गई। इसलिए यह बहुत जरूरी है कि सभी लोगों को अति आवश्यक सेवाएं जैसे किराना/ राशन,सब्जी, दवा आदि कि कोई दिक्कत ना हो। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान श्री सिन्हा ने जनप्रतिनिधियों से उनके क्षेत्रों का हाल जाना। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा जो भी सर्वे कराया जा रहा है। उसमें लोग सही तरीके से जानकारी साझा करें एवं बिना डरे हर बात को सामने रखें इसके लिए जनप्रतिनिधियों को अपने-अपने क्षेत्रों में विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

==========================================

■ सदर अस्पताल एवं नई सराय स्थित सीसीएल अस्पताल में लगाया गया सैनिटाइजेशन चेंबर

रामगढ़: कोरोना वायरस कोविड-19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु पूरे देश को लॉक डाउन किया गया है। जिला प्रशासन, रामगढ़ द्वारा कोरोना संक्रमण को रोकने हेतु हर संभव प्रयास किया जा रहा है। इसी क्रम में छतरमांडू स्थित सदर अस्पताल एवं नई सराय स्थित सीसीएल केंद्रीय अस्पताल में सैनिटाइजेशन चेंबर लगाया गया है। सैनिटाइजेशन चेंबर के माध्यम से अस्पताल परिसर में आने वाले किसी भी व्यक्ति को डिसइनफेक्ट किया जा सकता है। जोकि संक्रमण को अन्य लोगों तक फैलने से रोकने में काफी कारगर है।

===========================================

 ■उपायुक्त ने किया सदर अस्पताल का निरीक्षण 

■सभी चिकित्सक एवं स्वास्थ्य अधिकारी स्टैंडबाई मॉड में रहे: उपायुक्त

रामगढ़: कोरोना वायरस कोविड-19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु पूरे देश को 3 मई तक के लिए लॉक डाउन किया गया है। 
इसी क्रम में बुधवार को उपायुक्त श्री संदीप सिंह ने छतरमांडू स्थित सदर अस्पताल का निरीक्षण कर कोविड-19 से संबंधित की गई तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने सदर अस्पताल परिसर में बनाए गए आईसीयू वार्ड, सैनिटाइजेशन चेंबर, सैंपल कलेक्शन सेंटर आदि का जायजा लिया। श्री सिंह ने अस्पताल परिसर में मौजूद सभी चिकित्सकों एवं प्रतिनियुक्त किए गए अधिकारियों को स्टैंडबाई मॉड में रहने का निर्देश दिया।
गौरतलब हो कि छतर मांडू स्थित सदर अस्पताल एवं नई सराय स्थित सीसीएल केंद्रीय अस्पताल में सैनिटाइजेशन चेंबर लगाया गया है। जिसकी मदद से अस्पताल परिसर में आने वाले व्यक्तियों को डिसइनफेक्ट किया जा रहा है।

==============================================

■कोविड-19 से संक्रमित किसी भी मरीज को आइसोलेशन सेंटर से अस्पताल में शिफ्ट करने हेतु हुई मॉक ड्रिल

■पूरी मॉक ड्रिल के दौरान उपायुक्त रहे मौजूद

■मॉक ड्रिल कोविड-19 से उत्पन्न किसी भी परिस्थिति से निपटने हेतु जरूरी

■हमारी तैयारियों को परखने में काफी कारगर है मॉक ड्रिल: उपायुक्त

रामगढ़: कोरोनावायरस कोविड-19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु पूरे देश को 3 मई तक लॉक डाउन किया गया है। हालांकि रामगढ़ जिला में अब तक किसी व्यक्ति के कोविड-19 से संक्रमित होने से संबंधित कोई भी मामला सामने नहीं आया है। लेकिन जिला प्रशासन, रामगढ़ द्वारा कोविड-19 से उत्पन्न होने वाले किसी भी परिस्थिति से निपटने हेतु युद्ध स्तर पर सभी तैयारियां की जा रही हैं। इसी क्रम में बुधवार को कोविड-19 से संक्रमित किसी व्यक्ति को आइसोलेशन सेंटर से किसी अस्पताल में शिफ्ट करने हेतु पूरी प्रक्रिया की मॉक ड्रिल की गई। मॉक ड्रिल के लिए छतरमांडू स्थित सदर अस्पताल एवं स्पेशल कोविड-19 हॉस्पिटल के रूप में अधिग्रहित किए गए नई सराय स्थित सीसीएल अस्पताल को चुना गया। मॉक ड्रिल को वास्तविक रूप देने के लिए हर बारीकी जैसे समय सीमा, सोशल डिस्टेंसिंग, डिसइन्फेक्शन आदि जैसी हर बात का विशेष ध्यान रखा गया। मॉक ड्रिल  दौरान जिला उपायुक्त श्री संदीप सिंह स्वयं मौजूद रहे एवं पूरी मॉक ड्रिल प्रक्रिया में अपनी नजर बनाई रखी। मॉक ड्रिल के दौरान किस प्रकार से किसी भी मरीज को विशेष सावधानियां बरतते हुए किसी एक जगह से दूसरी जगह तक ले जाना है अथवा जरूरत पड़ने पर मरीज को किस प्रकार से वेंटिलेटर सेवा दी जानी है की पूरी प्रक्रिया को वास्तविक रूप दिया गया। मॉक ड्रिल के दौरान पुलिस अधीक्षक श्री प्रभात कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी श्री अनंत कुमार, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी श्रीमती रजनी रेजिना इंदवार, प्रभारी सिविल सर्जन डॉक्टर एस पी सिंह, डीएस सदर अस्पताल  डॉ विनोद कुमार, डॉक्टर साथी घोष, डॉ विनय मिश्रा, एस एमओ डब्ल्यूएचओ डॉक्टर अमोल शिंदे सहित कई अन्य उपस्थित थे।

===============================================

■अफवाह फैलाने अथवा माहौल बिगाड़ने वालों के खिलाफ की जाए कड़ी कार्रवाई: अपर समाहर्ता

■पब्लिक अवेयरनेस एवं लोगों द्वारा अलग-अलग माध्यमों से आ रही शिकायतों के जल्द निष्पादन पर हुई चर्चा

■सभी सदस्यों ने रखी अपनी अपनी राय

रामगढ़: कोरोनावायरस कोविड-19 से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु पूरे देश को 3 मई तक के लिए लॉक डाउन किया गया है। जिला प्रशासन द्वारा कोविड-19 को रोकने हेतु हर संभव प्रयास किया जा रहा है। इसी क्रम में जिला प्रशासन द्वारा विभिन्न टास्क फोर्स का गठन किया गया है। बुधवार को अपर समाहर्ता सह अध्यक्ष पब्लिक अवेयरनेस एंड ग्रीवांस रिड्रेसल टास्क फोर्स श्री जुगनू मिंज की अध्यक्षता में टास्क फोर्स की बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान कोविड-19 के प्रति जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में रह रहे लोगों को जागरूक करने हेतु विभिन्न माध्यमों के इस्तेमाल, अलग-अलग माध्यमों का इस्तेमाल कर लोगों द्वारा की जा रही शिकायतों के जल्द निष्पादन, अफवाहों अथवा सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने से संबंधित मामलों सहित कई अन्य मसलों पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई। बैठक के दौरान श्री मिंज ने योजनाबद्ध तरीके से जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में रह रहे लोगों को लॉक डाउन एवं कोविड-19 से बचने हेतु विभिन्न उपायों के प्रति जागरूक करने पर बल दिया। इस दौरान उन्होंने लोगों द्वारा अलग-अलग माध्यमों से की जा रही शिकायतों के भी जल्द निष्पादन पर ध्यान देने को कहा। श्री मिंज ने कहा कि किसी भी हाल में हमें सरकार द्वारा तय की गई समय सीमा के अंदर सभी मामलों का निष्पादन करना सुनिश्चित करना है। इस दौरान उन्होंने आई शिकायतों को विभागवार बांटकर उनकी समीक्षा की।


================================================

■मुख्यमंत्री दीदी किचन के माध्यम से जिले के सुदूर गांव में गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को उपलब्ध कराया जा रहा है भोजन

■ बुधवार को जिले के 5974 गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को मुख्यमंत्री दीदी किचन के माध्यम से उपलब्ध कराया गया 

रामगढ़: कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु पूरे देश को लॉक डाउन किया गया है। इस अवधि के दौरान जिला प्रशासन, रामगढ़ द्वारा सभी को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। हाल ही में राज्य स्तर पर शुरू हुए मुख्यमंत्री दीदी किचन के तहत गरीब एवं जरूरतमंद व्यक्तियों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इसी क्रम में रामगढ़ जिले में भी मुख्यमंत्री दीदी किचन की शुरुआत की गई है। जिले में मुख्यमंत्री दीदी किचन का संचालन पूर्ण रूप से जेएसएलपीएस की महिलाओं द्वारा किया जा रहा है। इस कार्य मे जिला प्रशासन द्वारा उन्हें सभी तरह की संभव मदद दी जा रही है।पूरे जिले के लगभग 118 पंचायतों में 122 मुख्यमंत्री दीदी किचन का शुभारंभ किया गया है। जिसके माध्यम से बुधवार को  5974 गरीब एवं  जरूरतमंद लोगों को भोजन उपलब्ध कराया गया।गौरतलब हो कि जिला प्रशासन द्वारा पूरे जिले में कुल 160 केंद्रों के माध्यम से जिले के सुदूर गांवों में रह रहे हर जरूरतमंद एवं गरीब व्यक्ति तक भोजन पहुंचाना सुनिश्चित किया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment

Like Us

Ads

Post Bottom Ad


 Advertise With Us