राज्य की 13 संस्थाओं द्वारा लॉकडाउन में फंसे मजदूरों व छात्रों को वापस लाने की मांग - Rashtra Samarpan News and Views Portal

Breaking News

Home Top Ad


 Advertise With Us

Post Top Ad


Subscribe Us

Tuesday, April 28, 2020

राज्य की 13 संस्थाओं द्वारा लॉकडाउन में फंसे मजदूरों व छात्रों को वापस लाने की मांग

गिरिडीहः लॉकडाउन में फंसे मजदूरों व छात्रों को वापस लाने की मांग, 13 संस्थाओं ने सीएम हेमंत सोरेन को भेजा पत्र



लॉकडाउन के कारण देश के दूसरे राज्यों में बड़ी संख्या में झारखंडवासी फंसे हैं. गिरिडीह जिले के फंसे लोगों की सकुशल वापसी सीएम को पत्र लिखकर इस दिशा में विशेष कदम उठाने की मांग की गई है.

बगोदर, गिरिडीहः कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण बड़ी संख्या में देश के विविध भागों में झारखंडवासी फंसे हैं. महानगरों में फंसे प्रवासी मजदूरों एवं छात्रों की सकुशल वापसी की मांग को लेकर गिरिडीह एवं हजारीबाग जिले की 13 संस्थाओं ने सीएम हेमंत सोरेन को मांग पत्र भेजा है.

लॉकडाउन में फंसे लोगों को वापस लाने की मांग.

इसके माध्यम से प्रवासी मजदूरों व छात्रों को वापस लाने की मांग की गई है. सीएम के भेजे आवेदन में उत्तर प्रदेश एवं हिमाचल प्रदेश की तर्ज पर झारखंड के भी प्रवासी मजदूरों एवं छात्रों की वापसी करने की मांग की गई है.
संस्थाओं ने कहा है कि लॉकडाउन में फंसे मजदूरों एवं छात्रों को बस या कोई और भी साधन से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लाया जाए एवं उन्हें 14 दिन कॉरेंनटाइन में रखने के बाद घर जाने की अनुमति दी जाए.

मांग पत्र में दहेज मुक्त झारखण्ड के रास्ट्रीय संस्थापक डॉ आनन्द कुमार शाही एवं रास्ट्रीय अध्यक्ष बिजय प्रसाद ने कहा कि एक महीने से अधिक समय से विभिन्न महानगरों में प्रवासी मजदूर एवं छात्र फंसे हुए हैं .
इससे उनके समक्ष सिर्फ खाने-पीने की हीं नहीं बल्कि अन्य समस्याओं से भी उन्हें जूझना पड़ रहा है.
श्रीराम कृष्ण ट्रस्ट आश्रम सरिया, झारखंडवासी परिवर्तन संघ, प्रवासी ग्रुप झारखंड, दहेज मुक्त झारखंड, झारखंडी एकता संघ, विकलांग मानव सेवा केंद्र खटैया, प्रतिभा विकास मंच, राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं अपराध नियंत्रण आयोजन सहित 13 संस्थानों ने उपरोक्त मांग की है.

No comments:

Post a Comment

Like Us

Ads

Post Bottom Ad


 Advertise With Us