विस्फोटक और नक्सली साहित्य के साथ रामगढ से लापता वकील गिरफ्तार - Rashtra Samarpan News and Views Portal

Breaking News

Home Top Ad


 Advertise With Us

Post Top Ad


Subscribe Us

Friday, June 7, 2019

विस्फोटक और नक्सली साहित्य के साथ रामगढ से लापता वकील गिरफ्तार



रिपोर्ट: रितेश / सतीश


जहां एक ओर रामगढ़ के वकील मिथिलेश सिंह , बिंझार निवासी रूपेश और उनके कार चालक मोहम्मद कलाम की तलाश में पुलिस ने दिन-रात एक कर दिया वहीं पता चला कि तीनों लोगों को भारी मात्रा में विस्फोटक और नक्सली साहित्य के साथ बिहार पुलिस ने  गिरफ्तार किया कर लिया है।

मिथिलेश सिंह और रूपेश को रामगढ़ से किराए की कार लेकर बिहार 4 जून को ही रवाना हुए  थे। उनके घर वालों ने पुलिस के पास अपहरण का मामला दर्ज कराया। रामगढ़ में भी यह बात काफी गंभीर हो चली थी । समाज की कई संगठन और मीडिया भी अधिवक्ता के सुरक्षित घर वापसी के लिए पुलिस पर दबाव बनाए जा रही थी।

इसी बीच गया से सूचना मिली कि मिथिलेश सिंह, रूपेश कुमार सिंह और भाड़े की गाड़ी का चालक मोहम्मद कलाम बिहार पुलिस के कब्जे में है। गुप्त सुचना के आधार पर  शेरघाटी एएसपी ने तीनों को जीटी रोड से गिरफ्तार किया था । प्राप्त जानकारी और समाचार पत्रों  के अनुसार लगभग पौने चार सौ डेटोनेटर 32 जिलेटिन और नक्सली साहित्य लेकर मिथिलेश सिंह के साथ चमराबंदा की ओर जा रहा था। वहीँ  रूपेश की पहचान भाकपा माओवादी संगठन स्पेशल एरिया कमेटी के सदस्य के तौर पर की गई है। पुलिस के अनुसार नक्सली पत्रिका का संपादन रूपेश ही किया करता था और वह भागलपुर जिले के शाहकुंड क्षेत्र का रहने वाला है।

गया पुलिस के अनुसार उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि हजारीबाग से कुछ नक्सली विस्फोटक लेकर गया की ओर जा रहे हैं गया पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर तत्काल कार्यवाही करते हुए एसटीएफ की टीम गठित कर डोभी मोड़ पर वाहन चेकिंग शुरू कर दी गई । इसी दौरान एक सिल्वर कलर की स्विफ्ट डिजायर कार को पुलिस ने जब चेक किया तो कार में विस्फोटक पाया गया। उस कार में अधिवक्ता मिथिलेश कुमार सिंह, नक्सली रूपेश कुमार सिंह और कार चालक मोहम्मद कलाम मौजूद थे जिन्हें बिहार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

रामगढ़ कोर्ट के अधिवक्ता मिथिलेश सिंह जो रोबा कॉलोनी रांची रोड के निवासी है उन्होंने 4 जून की सुबह नई सराय निवासी नीरज वर्णवाल की स्विफ्ट डिजायर कार को भाड़े में लेकर रामगढ़ से गया जिले की ओर  गए  थे। उस कार में अधिवक्ता मिथिलेश सिंह के साथ अरगड्डा रोड बिंझार निवासी रूपेश कुमार और गाड़ी चालक मोहम्मद कलाम भी थे।

गया पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर उन लोगों को गिरफ्तार कर लिया था इधर कार सहित तीनों के लापता होने की प्राथमिकी रामगढ़ थाने में बुधवार को दर्ज किए जाने के बाद रामगढ़ पुलिस उनकी तलाश में  खासी परेशान रही।

रामगढ़ थाना के सब इंस्पेक्टर आरएन सिंह ने बताया कि रामगढ़ थाना में मिथिलेश सिंह, रूपेश कुमार एवं कार चालक मोहम्मद कलाम की किडनैपिंग को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। उसके बाद पुलिस की तरफ से उन तीनों की खोज के लिए एसआईटी की टीम गठित की गई । वह टीम बिहार पुलिस से संपर्क स्थापित कर  बिहार और झारखंड के कई इलाकों में खोजबीन कर रही थी।

No comments:

Post a Comment

Like Us

Ads

Post Bottom Ad


 Advertise With Us